सिडबी की श्वास और आरोग लोन योजना

इस वक्त पूरा विश्व कोरोना महामारी से जूझ रहा है। भारत में कोरोना का दूसरे चरण का तांडव चल रहा है। जिसकी वजह से बिजनेस पर बहुत खराब प्रभाव पड़ा है। एमएसएमई सेक्टर को संभालने के लिए केंद्र सरकार द्वारा सकारात्मक प्रयास किया जा रहा है। इसी क्रम में एमएसएमई के लिए भारतीय लघु उद्योग विकास बैंक (सिडबी) ने कोरोनो महामारी से निपटने में सहयोग के लिए श्वास और आरोग नाम से दो नयी लोन योजनाओं की शुरुआत की है। 

आपका बिजनेस कितना पुराना है?
पिछले साल की बिक्री ?
प्रथम नाम
अंतिम नाम
मोबाइल नंबर
अपने शहर का नाम दें

instant business loan

Ziploan व्यवसायों के लिए लोकप्रिय लोनदाता है।

Icon1

न्यूनतम कागजात

बैलेंस शीट की जरूरत नहीं है

Icon4

प्री-पेमेंट चार्जेंस फ्री

6 EMI का भुगतान करने के बाद

Icon3

सिर्फ 3 दिन* में बिजनेस लोन

रकम आपके बैंक खाते में

श्वास और आरोग्य लोन योजना क्या है? (What is SHWAS and AROG in Hindi)

भारतीय लघु उद्योग विकास बैंक (सिडबी) द्वारा एमएसएमई के लिए कोरोना से निपटने के लिए आर्थिक सहायता देने के लिए इस योजना को शुरु किया है। श्वास और आरोग्य दो अलग – अलग लोन योजनाएं हैं। इन दोनों योजना में एमएसएमई को बिजनेस लोन मिलता है। इस योजना के बारें विस्तार से बताया जा रहा है। 

श्वास और आरोग्य लोन योजना की जानकारी 

इस योजना को भारत सरकार के मार्गदर्शन में तैयार किया गया है, जो ऑक्सीजन सिलेंडर, लिक्विड ऑक्सीजन, ऑक्सीमीटर और आवश्यक दवाओं की आपूर्ति से संबंधित उत्पादन और सेवाओं के लिए धन की सुविधा प्रदान करता है। 

सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यमों (MSME) को आवश्यक वित्तीय सहायता के साथ मदद करने के लिए, SIDBI ने COVID-19 महामारी के खिलाफ लड़ाई में उपयोग किए जाने वाले उत्पादों की आपूर्ति के लिए रियायती दर पर बिजनेस लोन प्रदान करने की संस्तुति करता है। 

इन बिजनेस लोन से एमएसएमई, भारतीय लघु उद्योग विकास बैंक (सिडबी) द्वारा ऑक्सीजन सिलेंडर, ऑक्सीजन कंसंट्रेटर्स, ऑक्सीमीटर और आवश्यक दवाओं की आपूर्ति में मदद मिलेगी। 

MSMEs के प्रचार, वित्तपोषण और विकास में लगे प्रमुख वित्तीय संस्थान ने COVID19 की दूसरी लहर के खिलाफ युद्ध में हेल्थकेयर क्षेत्र को SHWAS (SIDBI सहायता) और AROG (COVID19) महामारी के दौरान पुनर्प्राप्ति और कार्बनिक विकास के लिए MSMEs को सिडबी सहायता की शुरुआत की है।  

SIDBI, COVID 19 के कारण होने वाली वर्तमान दिक्कतों और राष्ट्रीय स्वास्थ आपातकाल को देखते हुए, महामारी से लड़ने के लिए स्वास्थ्य सेवा प्रदाताओं की सहायता के लिए इन योजनाओं को पूरा करने के लिए तैयार किया है।  

श्वास और आरोग्य लोन योजना की पात्रता (SHWAS and AROG Loan Scheme Eligibility)

सिडबी के मौजूदा ग्राहकों के लिए अंतिम ऑडिटेड बैलेंस शीट में नकद लाभ (यानी वित्तवर्ष 2020 में बिजनेस लाभ में होना चाहिए) 

श्वास और आरोग्य लोन योजना के लिए आवश्यक दस्तावेज

श्वास और आरोग्य लोन योजना में कितना लोन मिलेगा? 

इस योजना में पात्र एमएसएमई को 2 करोड़ रुपयो तक का बिजनेस लोन मुहैया कराने का प्रावधान किया गया है। इन योजनाओं की खास बात यह है कि, अगर पात्र एमएसएमई आवेदन के साथ ही सभी जरुरी दस्तावेजों को मुहैया करा देते हैं तो, उन्हें 45 घंटों के भीतर एमएसएमई लोन मिल सकताहै। इन योनजा के तहत मिलने वाले लोन पर 4.5 प्रतिशत प्रति वर्ष की आकर्षक ब्याज दर लागू है। साथ ही प्रोजेक्ट पर शत-प्रतिशत लोन देने का प्रावधान किया गया है। 

श्वास और आरोग्य लोन योजना में लोन का टेन्योर 

सिबडी की श्वास और आरोग्य लोन योजना के तहत मिलने वाले लोन का टेन्योर माह तक है। जिसमें 12 माह मोरेटोरियम अवधि भी शामिल है। 

श्वास और आरोग्य लोन योजना में आवेदन कैसे करें 

इस योजना के तहत लोन के लिए आवेदन करने के लिए एक सिंगल आवेदन पत्र पर आवेदन करना होता ह। आवेदन पत्र को सही तरह से भरकर, सभी जरुरी दस्तावेज लगाकर सिबडी के कार्यालय में जमा कर देना होता है। अगर आप पात्र होते हैं, तो आपका लोन 48 घंटो में मंजूर हो जाता है। 

श्वास और आरोग्य लोन योजना मे प्रोसेसिंग चार्ज फ्री है। इसी के साथ लोन पर क्रेडिट गारंटी योजना का भी लाभ मिलता है। 

श्वास और आरोग्य लोन योजना का लाभ 

दोनों योजना के तहत एमएसएमई को आसानी के साथ लोन मिलता है। लेकिन, लाभ अलग – अलग है।  

श्वास योजना कोविड19 की दूसरी लहर के खिलाफ युद्ध में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहे हेल्थकेयर क्षेत्र के एमएसएमई को सिडबी की सहायता मिलती है। 

आरोग योजना में महामारी के दौरान एमएसएमई इकाइयों की रिकवरी और संवृद्धि के लिए के तुरंत लोन की सहायता उपलब्ध कराने के लिए शुरु किया गया है।  

योजना से मिले धन का उपयोग ऑक्सीजन सिलेंडर, ऑक्सीजन कंसन्ट्रेटरस, ऑक्सीमीटर और आवश्यक दवाओं की आपूर्ति से संबंधित उत्पादन को बढ़ाने और सेवाओं उपलब्ध कराने के लिए किया जाना है। कोरोना वायरस से लड़ने से संबंधित किसी भी उत्पाद जैसे जैसे हैंड सैनिटाइटर, मास्क), बॉडी सूट, वेंटिलेटर, टेस्टिंग लैब, आदि का निर्माण कर रहे हों, उनको इन योनजा का लाभ मिल सकता है।  

वित्तीय वर्ष 2021 में कोविड19 से लड़ने के लिए प्रोडक्ट का उत्पादन करने वाली 400 से अधिक एमएसएमई इकाइयों को सेफ के तहत कुल 178 करोड़ रुपये की राशि की वित्तीय सहायता स्वीकृत की गई है। सिडबी ने इन नयी योजनाओं की शुरुआत की है ताकि एमएसएमई इकाइयों की मदद हो सके और वे शीघ्रता से अपनी सुविधाओं का विस्तार कर सकें।  

ICICI-Prudential-Internal-page

बुनियादी समस्याओं का हल

राम यादव

मैं बारह वर्षों से अपना कारोबार चला रहा हूं लेकिन अपने बिजनेस का विस्तार करने के लिए सक्षम नहीं था। मैंने Ziploan में आवेदन किया और उन्होंने मेरे लोन आवेदन को बहुत ही कम समय में मंजूरी दे दी।

कंचन लता

मैंने अपने कारोबार की ज़रूरतों के लिए ZipLoan से संपर्क किया। कंपनी से लोन पाने की शर्तें पूरा करना आसान था। उन्हें सिर्फ 1 साल का ITR और बिजनेस का सालाना टर्नओवर 10 लाख तक की जरूरत थी।

क्या आप भी ZipLoan के मदद से अपने बिजनेस को बढ़ाने के लिए तैयार हैं?