बकरी पालन लोन

ग्रामीण क्षेत्रों में बकरी पालन व्यवसाय एक मुनाफा वाला व्यवसाय है। इस व्यवसाय को शुरु करने के लिए और बिजनेस का संचालन करने के लिए सरकारी वर्किंग कैपिटल लोन और एनबीएफसी बिजनेस लोन मिलता है। 

instant business loan

Ziploan व्यवसायों के लिए लोकप्रिय लोनदाता है।

Icon1

न्यूनतम कागजात

बैलेंस शीट की जरूरत नहीं है

Icon4

प्री-पेमेंट चार्जेंस फ्री

6 EMI का भुगतान करने के बाद

Icon3

सिर्फ 3 दिन* में बिजनेस लोन

रकम आपके बैंक खाते में

बकरी पालन व्यवसाय 

बकरी पालन व्यवसाय पशुधन व्यवसाय में आता है। यह कृषि कार्य न होकर कॉमर्शियल कार्य होता है। बकरी से पैदा होने वाले बकरों का मांस और बकरी की दूध इस बिजनेस का उत्पादन होता है। बकरी के दूध से स्किन और फाइबर का प्रमुख स्रोत मिलता है, जिससे मोटा मुनाफा होता है। बकरी पालन एक ऐसे व्यवयास है जो लाभदायक होने के साथ लंबे समय तक टिकाऊ भी है। कॉमर्शियल बकरी पालन बड़े उद्यमियों, व्यापारियों, उद्योगपतियों और ग्रामीण उत्पादकों द्वारा किया जाता है। 

बकरी पालन लोन

पशुधन व्यवसाय को कच्चा माल का बिजनेस भी कहते हैं। क्योंकि इसमे कच्चे माल की बिक्री होती है। हालांकि मुनाफा बेहतर होता है। बकरी की खरीद, बकरी के खाने के लिए राशन और चारा की खरीद और बकरियों के लिए रहने के लिए छत या टिन शेड का निर्माण करने के लिए लोन मिलता है। इसमें सरकारी लोन और बिजनेस लोन शामिल है। 

बकरी पालन के लिए मुख्य तौर से दो प्रकार का लोन मिलता है-

  • बकरी पालन शुरु करने के लिए बिजनेस लोन 
  • बकरी पालन व्यवसाय का संचालन के लिए वर्किंग कैपिटल लोन 

बकरी पालन शुरु करने के लिए बिजनेस लोन 

बकरी पालन का बिजनेस गैर कृषि कार्य व्यवसाय में आता है। जिसकी वजह से यह व्यवासाय एमएसएमई सेगमेंट में आता है। एमएसएमई सेगमेंट में आने के चलते सरकारी लोन के लिए पात्र हो जाता है। बकरी पालन व्यवसाय शुरु करने के लिए सरकारी योजनाओं में लोन मिलता है। जिस योजना में बकरी पालन शुरु करने के लिए लोन मिलता है, उस योजना का नाम पीएम मुद्रा लोन योजना है। मुद्रा लोन के तहत 50 हजार रुपये से 10 लाख रुपये तक का बिजनेस लोन प्राप्त किया जा सकता है। इसके अतिरिक्कत बैंकों की अपनी योजनाओं में बकरी लोन मिलता है। बैंकों की बकरी पालन लोन योजना निम्नलिखित हैं- 

स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) का बकरी पालन लोन 

स्टेट बैंक ऑफ इंडिया से मिलने वाले बकरी पालन के लिए लोन धनराशि का निर्धारण व्यवसाय की आवश्यकताओं और आवेदक की प्रोफाइल पर निर्भर करता है। एसबीआई से बकरी पालन के लिए लोन हेतु निम्नलिखित तैयारी होना चाहिए- 

  • बेहतरीन रुप से तैयार बिजनेस प्लान होना चाहिए। बिजनेस प्लान में बिजनेस का क्षेत्र, बिजनेस का स्थान, बकरियों की नस्ल का विवरण, बिजनेस में उपयोग होने वाले उपकरण, वर्किंग कैपिटल इंनवेस्टमेंट धन, टोटल बजट, मार्केटिंग स्ट्रैटजी, बिजनेस में काम करने वाले लोगों का विवरण आदि जैसे सभी आवश्यक बिजनेस से संबंधित जरुरी जानकारी होना अनिवार्य होता है। 
  • बकरी पालन लोन के लिए प्रस्तुत आवेदन में सभी शर्तो को पूरा किया जाना चाहिए। 
  • जरुरत पड़ने पर प्रॉपर्टी सेक्योरिटी के तौर पर रखना होगा। इसके लिए पहले से तैयार होना चाहिए। 

बकरी पालन के लिए नाबार्ड लोन 

नेशनल बैंक फॉर एग्रीकल्चर एंड रूरल डेवलपमेंट (NABARD) का मुख्य फोकस पशुधन बिजनेस के बढ़ोतरी पर है। जिसके लिए नाबार्ड तमाम तरह की लोन योजना चला रहा है। नाबार्ड विभिन्न बैंकों या लोन संस्थानों की मदद से बकरी पालन लोन प्रदान करता है। नाबार्ड की योजना के अनुसार, गरीबी रेखा के नीचे, SC / ST कैटेगरी में आने वाले लोगों को बकरी पालन पर 33% अनुदान मिलेगा। अन्य लोगों के लिए जो ओबीसी और सामान्य श्रेणी के अंतर्गत आते हैं, उन्हें 25% अनुदान मिलेगा। जो कि अधिकतम 2.5 लाख रु. होगा। नाबार्ड के तहत निम्नलिखित बैंको और वित्तिय संस्थाओं से लोन मिलता है- 

  • कॉमर्शियल बैंक 
  • क्षेत्रीय ग्रामीण बैंक 
  • राज्य सहकारी कृषि और ग्रामीण विकास बैंक 
  • राज्य सहकारी बैंक 
  • शहरी बैंक 

केनरा बैंक से बकरी पालन के लिए लोन 

कैनरा बैंक से सिर्फ उन्हीं लोगों को व्यवसाय के लिए लोन मिलता है, जो लोग केनरा बैंक के ग्राहक होते हैं। अतार्थ उनका केनरा बैंक में अकाउंट होना चाहिए। केनरा बैंक अपने ग्राहकों को आकर्षक ब्याज दरों पर भेड़ और बकरी पालन लोन प्रदान करता है। केनरा बैंक से मिलने वाले बकरी पालन लोन की विशेषताएं निम्न हैं: 

  • लोन धनराशि: बिजनेस की जरुरतों को अनुसार तय होता है। 
  • लोन टेन्योर: 4 से 5 वर्ष तक। 
  • लोन सेक्योरिटी: 1 लाख रुपया तक के लोन के लिए लोन राशि से बनाई जाने वाली संपत्ति गिरवी रखना होगा। मतलब जब तब लोन चुका नहीं दिया जाता है, तब तक जो कार्य लोन राशि से किया जा रहा है, उपपर बैंक का अधिकार होगा। 
  • 1 लाख रुपये से अधिक लोन पर सेक्योरिटी- 1 लाख रुपये से अधिक के लोन के लिए सेक्योरिटी के तौर पर ज़मीन और लोन राशि से बनाई जाने वाली संपत्ति गिरवी रखना होगा। 

आईडीबीआई बैंक से बकरी पालन लोन 

आईडीबीआई बैंक अपनी योजना से बकरी पालन लोन प्रदान करता है। बैंक की योजना का नाम ‘Agriculture Finance Sheep & Goat Rearing’ है। जिसके तहत भेड़ और बकरी पालन के लिए लोन प्रदान किया जाता है। आईडीबीआई से न्यूनतम लोन धनराशि 50 हजार रुपये होती है और और अधिकतम लोन धनराशि 50 लाख तक मिलती है। 

बकरी पालन लोन के लिए आवश्यक दस्तावेज 

सभी बैंको की लोन प्रदान करने की अपना प्रोसेस होता है। अलग - अलग दस्तावेजों की मांग की जाती है। फिर भी कुछ कागजात ऐसे होते हैं, जिनकी मांग हर जगह की जाती है, जैसे-  

  • पासपोर्ट साइज फोटो 
  • पिछले 6 महीने का बैंक स्टेटमेंट 
  • बिजनेस प्लान 
  • बिजनेस की जगह संबंधित प्रमाण पत्र 
  • ऐड्रेस प्रूफ
  • इनकम प्रूफ 
  • आधार कार्ड 
  • पैन कार्ड
  • बीपीएल कार्ड, यदि उपलब्ध हो 
  • जाति प्रमाण पत्र, यदि एससी / एसटी / ओबीसी हो तो 
  • मूल निवासी प्रमाण पत्र 

बकरी पालन व्यवसाय का संचालन के लिए वर्किंग कैपिटल लोन

वर्किंग कैपिटल का अर्थ होता है व्यवसाय का संचालन करने वाली धनराशि। मतलब जो व्यवसाय पहले से संचालित हो रहा है, उसे सतत् रुप से चलाने के लिए जो लोन मिलता है, उसे वर्किग कैपिटल लोन कहते हैं। वर्किंग कैपिटल लोन उपयोग करके बिजनेस की दैनिक जरुरतों को पूरा करने के साथ बिजनेस का कैश फ्लो को बनाए रखने के लिए किया जाता है। 

बकरी पालन कारोबारी विभिन्न प्राइवेट और सरकारी बैंकों के साथ एनबीएफसी से बकरी पालन व्यवसाय के लिए वर्किंग कैपिटल लोन प्राप्त कर सकते हैं। देश की प्रमुख एनबीएफसी ZipLoan से 7.5 लाख रुपये तक का वर्किंग कैपिटल लोन सिर्फ 3 दिनों* में मिलता है। 

Also Read:

 

ICICI-Prudential-Internal-page

बुनियादी समस्याओं का हल

राम यादव

मैं बारह वर्षों से अपना कारोबार चला रहा हूं लेकिन अपने बिजनेस का विस्तार करने के लिए सक्षम नहीं था। मैंने Ziploan में आवेदन किया और उन्होंने मेरे लोन आवेदन को बहुत ही कम समय में मंजूरी दे दी।

कंचन लता

मैंने अपने कारोबार की ज़रूरतों के लिए ZipLoan से संपर्क किया। कंपनी से लोन पाने की शर्तें पूरा करना आसान था। उन्हें सिर्फ 1 साल का ITR और बिजनेस का सालाना टर्नओवर 10 लाख तक की जरूरत थी।

क्या आप भी ZipLoan के मदद से अपने बिजनेस को बढ़ाने के लिए तैयार हैं?