मर्चेंट फंडिंग क्या है?

मर्चेंट फंडिंग कोई अलग चीज नही है बल्कि यह भी एक प्रकार का बिजनेस लोन ही है। जब किसी कारोबारी को अपना बिजनेस चलाने में पैसों की कमी होती है या उन्हें मार्केट से किसी उपकरण को खरीदने के लिए एडवांस में भुगतान करना होता है, लेकिन कारोबारी के पास तत्काल एडवांस में देने के लिए धन नहीं होता है तब उन्हें किसी वित्तीय संस्था द्वारा तत्काल पैसा लोन के रुप में दिया जाता है, तो उसे मर्चेंट फंडिंग के रुप में जाना जाता है।

मर्चेंट फंडिंग का मतलब बिजनेस चलाने के लिए मिलने वाले धन से है। मर्चेंट फंडिंग शब्द को हम अलग – अलग करके समझेंगे तो और अधिक क्लिरिटी से समझ आएगा। मर्चेंट का मतलब बाज़ार है और फंडिंग का मतलब पैसों से है। इस तरह मर्चेंट फंडिंग का मतलब हुआ बाज़ार के लिए पैसा।

इसे हम बिजनेस से इस प्रकार जोड़ रहे हैं। किसी भी बिजनेस को चलाने में बहुत सारे उपकरण, वाहन इत्यादि की जरूरत होती है। ऐसे कुछ उपकरण या वाहन को खरीदने के लिए एडवांस में धन का भुगतान करना होता है।

जब किसी कारोबारी को अपने बिजनेस के लिए कोई उपकरण खरीदना होता है और उस उपकरण के लिए एडवांस देने का धन नहीं होता है, तो इस स्थिति में अगर किसी वित्तीय संस्थान से कारोबारी को उपकरण खरीदने के लिए एडवांस जमा करने के लिए रकम लोन के रुप में मिलती है, तो इसे हम मर्चेंट फंड के रुप में जानते हैं।

आपको जानकारी के लिए बता दें कि देश की प्रमुख नॉन बैंकिंग फाइनेंशियल कंपनी ZipLoan से 5 लाख तक का बिजनेस लोन सिर्फ 3 दिन* में बिना कुछ गिरवी रखे मिलता है।

आपका बिजनेस कितना पुराना है?
पिछले साल की बिक्री ?
प्रथम नाम
अंतिम नाम
मोबाइल नंबर
अपने शहर का नाम दें

instant business loan

Ziploan व्यवसायों के लिए लोकप्रिय लोनदाता है।

Icon1

न्यूनतम कागजात

बैलेंस शीट की जरूरत नहीं है

Icon4

प्री-पेमेंट चार्जेंस फ्री

6 EMI का भुगतान करने के बाद

Icon3

सिर्फ 3 दिन* में बिजनेस लोन

रकम आपके बैंक खाते में

मर्चेंट फंडिंग का लाभ क्या है?

इसे हम एक उदाहरण से समझेंगे। माना रमेश को अपनी दुकान के लिए तत्काल में कम्प्यूटर की जरूरत है। रमेश एक दुकान पर गया और अपनी जरूरत के अनुरूप कम्प्यूटर मंगाने की बात किया। लेकिन दुकानदार ने रमेश से कम्प्यूटर मंगाने के लिए 50 हजार रुपया एडवांस में मांगा। लेकिन रमेश के पास इतना धन नहीं था कि वह तत्काल में नगद 50 हजार रुपया देकर कम्प्यूटर का ऑर्डर दे सके।

तो ऐसी स्थिति में रमेश क्या करेंगा? सामान्तया रमेश को मन मानकर बैठ जाना चाहिए और पैसों के इंतजाम होने तक कम्प्यूटर के बारें में भूल जाना चाहिए। लेकिन एक वित्तीय संस्थान की तरफ से रमेश को 50 हजार रुपये मिल जाता है। वित्तीय कंपनी रमेश को 50 हजार रुपया 10% वार्षिक ब्याज पर 1 साल के लिए देती है।

अब रमेश तुरंत उन पैसों से अपनी दुकान के लिए कम्प्यूटर के लिए ऑर्डर दे देगा। इससे रमेश का काम आसान हो जायेगा। अब रमेश धीरे – धीरे करके वित्तीय कंपनी का पैसा वापस कर देगा। इस तरह रमेश को दुकान के लिए कम्प्यूटर मिल जायेगा। वित्तीय कंपनी को रमेश से ब्याज मिल जायेगा। इस प्रकार दोनों ही खुश हो जायेंगे, क्योंकि दोनों का ही मुनाफा हो गया। इसी को मर्चेंट फंडिंग कहते हैं।

मर्चेंट फंड कहा मिलता है?

आज का समय टेक्नोलॉजी का समय है। इस दौर में कारोबारियों का जीवन आसान करने के लिए सरकार स्तर पर और स्टार्टअप्स स्तर दोनों ही स्तर से प्रयास किया जा रहा है। वर्तमान में कई सरकारी – प्राइवेट बैंक के साथ नॉन बैंकिंग फाइनेंशियल कम्पनियां हैं जहां से बहुत आसानी से मर्चेंट फंडिंग बहुत आसानी मिल जाता है।

मर्चेंट फंड लेते समय याद रखें ये जरूरी बातें

ZipLoan से मिलता है 5 लाख तक का बिजनेस लोन, 3 दिन* में

फिनटेक क्षेत्र की प्रमुख नॉन बैंकिंग फाइनेंशियल कंपनी (एनबीएफसी) ZipLoan द्वारा कारोबारियों की आर्थिक समस्या को समझा जाता है।

कारोबारियों की आर्थिक जरूरत को देखते हुए ZipLoan द्वारा सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम श्रेणी के कारोबारियों को 5 लाख तक का बिजनेस लोन सिर्फ 3 दिन* में प्रदान किया जाता है।

आपको बता दें कि ZipLoan कंपनी के यहां 2.5 लाख तक की टॉप – अप लोन की सुविधा भी उपलब्ध है। टॉप – अप लोन की सुविधा उन सभी कारोबारियों को मिलती है जो कारोबारी अपने लोन की न्यूनतम 9 EMI सफलतापुर्वक भुगतान कर देते हैं। जानिए बिजनेस लोन के फायदों के बारें में।

बिजनेस लोन के फायदें निम्न हैं

बिना कुछ गिरवी रखे बिजनेस लोन: ZipLoan द्वारा प्रदान किया जाने वाला बिजनेस लोन बिना कुछ गिरवी होता है। यानी ZipLoan से बिजनेस लोन प्राप्त करने के लिए कुछ भी गिरवी रखने की जरूरत नहीं होती है।

सिर्फ 3 दिन में बिजनेस लोन: ZipLoan द्वारा कारोबारियों को पैसों की जरूरत को समझा जाता है। इसीलिए कारोबारियों को सिर्फ 3 दिन* में बिजनेस लोन प्रदान किया जाता है।

न्यूनतम कागजातों पर लोन: सरकारी बैंक और एनबीएफसी कंपनियों में ZipLoan एक ऐसी कंपनी है जहां से सिर्फ 4 कागजातों पर बिजनेस लोन मिलता है। ये 4 कागजी दस्तावेज निम्न हैं:

न्यूनतम पात्रता पर बिजनेस लोन: ZipLoan कंपनी इस बात को समझती है कि लोन की पात्रता शर्ते अधिक लगाने से जरूरतमंद कारोबारी बिजेनस लोन प्राप्त करने से वंचित रह जायेंगे। इसीलिए ZipLoan से बिजनेस लोन पाने की शर्ते न्यूनतम रखी गई हैं। शर्ते निम्न हैं:

प्री-अप्रूव्ड टॉप-अप लोन सुविधा: ZipLoan कंपनी से 1 से 5 लाख तक बिजनेस लोन मिलता है। लेकिन 2.5 लाख तक प्री-अप्रूव्ड लोन सुविधा भी प्रदान करता है। प्री-अप्रूव्ड लोन की सुविधा उन सभी कारोबारियों को मिलती है जिनके द्वारा अपने लोन की कम से कम 9 EMI का भुगतान कर दिया गया होता है।

ICICI-Prudential-Internal-page

बुनियादी समस्याओं का हल

राम यादव

मैं बारह वर्षों से अपना कारोबार चला रहा हूं लेकिन अपने बिजनेस का विस्तार करने के लिए सक्षम नहीं था। मैंने Ziploan में आवेदन किया और उन्होंने मेरे लोन आवेदन को बहुत ही कम समय में मंजूरी दे दी।

कंचन लता

मैंने अपने कारोबार की ज़रूरतों के लिए ZipLoan से संपर्क किया। कंपनी से लोन पाने की शर्तें पूरा करना आसान था। उन्हें सिर्फ 1 साल का ITR और बिजनेस का सालाना टर्नओवर 10 लाख तक की जरूरत थी।

क्या आप भी ZipLoan के मदद से अपने बिजनेस को बढ़ाने के लिए तैयार हैं?